मंगलवार , दिसम्बर 01 2020 | 05:55:00 PM
Home / राजकाज / चौबीस घंटों में रिजर्व बैंक ने दो बैंकों पर लगायीं कई पाबंदियां
In 24 hours, the Reserve Bank imposed several restrictions on two banks

चौबीस घंटों में रिजर्व बैंक ने दो बैंकों पर लगायीं कई पाबंदियां

नई दिल्ली। आर्थिक संकट से गुजर रहे लक्ष्मी विलास बैंक (Laxmi Vilas Bank) पर पाबंदी लगाने के 24 घंटे बीतते ने बीतते भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) (आरबीआई) ने एक और बैंक पर पाबंदी लगा दी। आरबीआई (RBI) ने महाराष्ट्र के जालना जिले में मंता अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक (Manta urban co-operative bank) को लेकर सख्त दिशा निर्देश जारी किये हैं, जो 17 नवम्बर के बाद 6 महीने तक लागू होंगे।

आरबीआई की अनुमति के बिना किसी को भी कर्ज या उधार नहीं

आरबीआई (Reserve Bank of India) ने मंता अर्बन को-ऑपरेटिव बैंक (Manta urban co-operative bank) के लिए निर्देश जारी करते हुए कहा कि अब ये बैंक आरबीआई की अनुमति के बिना किसी को भी कर्ज या उधार नहीं दे पायेगा। बैंक में कोई नयी धनराशि भी जमा नहीं की जायेगी। मालूम हो कि इससे एक दिन पूर्व केंद्र सरकार ने तमिलनाडु के प्राइवेट सेक्‍टर के लक्ष्‍मी विलास बैंक (Laxmi Vilas Bank) पर एक महीने के लिए कई तरह की पाबंदियां लगा दी हैं। अगर बैंक किसी को अधिक राशि का भुगतान करता है तो उसे सबसे पहले आरबीआई से लिखित में अनुमति लेनी पड़ेगी।

डीबीएस इंडिया के साथ Laxmi Vilas Bank के अधिग्रहण की योजना

लक्ष्मी विलास बैंक (Laxmi Vilas Bank) आरबीआई की अनुमति के बिना किसी को भी 25000 से अधिक धनराशि का भुगतान नहीं कर सकता। रिजर्व बैंक ने लक्ष्मी विलास बैंक (Laxmi Vilas Bank) के निदेशक मंडल को भी हटा कर केनरा बैंक के पूर्व गैर-कार्यकारी चेयरमैन टीएन मनोहरन को 30 दिनों के लिये उसका प्रशासक नियुक्त किया है। इसके साथ ही सरकार ने डीबीएस इंडिया के साथ लक्ष्मी विलास बैंक के अधिग्रहण की योजना की भी घोषणा की है। इस बीच रिजर्व बैंक ने लक्ष्मी विलास बैंक (Laxmi Vilas Bank) के डीबीएस बैंक (DBS Bank) के साथ विलय की मसौदा योजना भी सार्वजनिक की है। बैंक की खस्ता वित्तीय हालत को देखते हुए भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की सलाह के बाद सरकार ने यह कदम उठाया है।

 जमाधारकों के हित में यह फैसला

भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank of India) ने मंगलवार को एक बयान में कहा कि बैंक की ओर से विश्वसनीय पुनरोद्धार योजना नहीं पेश करने की स्थिति में जमाधारकों के हित में यह फैसला किया गया है व बैंकिंग और वित्तीय क्षेत्र की स्थिरिता के हितों का भी ख्याल रखा गया है। मालूम हो कि बैकिंग नियमन अधिनियम 1949 की धारा 45 के तहत केंद्र सरकार ने बैंक पर पाबंदी लगायी है।

लक्ष्मी विलास बैंक पर एक महीने की पाबंदी

Check Also

Coin of new private banks will run in banking sector, what is the government's plan

बैंकिंग सेक्टर में नए प्राइवेट बैंकों का चलेगा सिक्का, क्या है सरकार का प्लान

जयपुर। बीते हफ्ते शुक्रवार को भारतीय रिजर्व बैंक (Reserve Bank Of India) (RBI) के एक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *