रविवार , सितम्बर 26 2021 | 08:01:02 AM
Home / राजकाज / कोरोना काल में आयुष्‍मान योजना PMJAY का 2 करोड़ लोगों को मिला लाभ, कार्डधारियों ने कराया इलाज

कोरोना काल में आयुष्‍मान योजना PMJAY का 2 करोड़ लोगों को मिला लाभ, कार्डधारियों ने कराया इलाज

आज की तारीख तक योजना के तहत लगभग 16.20 करोड़ योग्य पात्रों की पुष्टि की जा चुकी है और उन्हें आयुष्मान कार्ड मुहैया कराया गया।

 

केंद्र सरकार की योजना आयुष्‍मान भारत अपने मकसद में पूरी तरह से सफल होती नज़र आ रही है। जब इस योजना का आरंभ किया गया था तो इस बात को ध्‍यान में रखा गया था कि समाज के गरीब लोगों को इलाज मिल सके। अब यह बात पूरी तरह से धरातल पर साबित हो गई है। कोरोना महामारी के बुरे समय में देश में करोड़ों लोगों को इस योजना का लाभ मिला है। दो करोड़ कार्ड धारियों ने इस योजना के तहत अस्‍पतालों में अपना इलाज कराया है। कोविड-19 महामारी के दौरान गरीब परिवारों के स्वास्थ्य खर्च का बोझ साझा करते हुए आयुष्मान भारत योजना के तहत केंद्र ने अभी तक देश भर में करीब 24,683 करोड़ रुपये के 1.99 करोड़ अस्पताल में चल रहे इलाज को अधिकृत किया है। राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकार (एनएचए) के आंकड़ों के अनुसार, आज की तारीख तक योजना के तहत लगभग 16.20 करोड़ योग्य पात्रों की पुष्टि की जा चुकी है और उन्हें आयुष्मान कार्ड मुहैया कराया गया है।

23,000 सरकारी और निजी अस्पतालों का एक नेटवर्क

एनएचए ने कहा, “निर्धारित दर के साथ कोविड चिकित्सा एवं डाइग्नोस्टिक जांच के साथ 1,669 प्रक्रिया को मिलाकर 918 हेल्थ बेनीफिट पैकेज (एचबीपी) हैं। अभी तक देश भर में लगभग 23,000 सरकारी और निजी अस्पतालों का एक नेटवर्क एबी पीएम-जेएवाई के साथ सूचीबद्ध है।”

क्या है आयुष्मान भारत योजना PMJAY

आयुष्मान भारत योजना को विश्‍व के सर्वाधिक बड़े स्वास्थ्य कार्यक्रमों में से एक माना जाता है। यह योजना सरकार ने देश के पात्र नागरिकों को 5 लाख तक की चिकित्सा सहायता और स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के मकसद से शुरू की थी। इसमें हर साल प्रति परिवार 5 लाख रुपये तक के स्वास्थ्य बीमा का प्रावधान शामिल है। वर्तमान में इस योजना में देश के 10 करोड़ परिवार शामिल हैं। ऐसा नहीं है कि यह योजना केवल गरीबों के लिए ही है बल्कि इसमें शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के परिवार भी आवेदन करके लाभ ले सकते हैं। PMJAY आयुष्मान भारत योजना सार्वजनिक अस्पतालों और निजी अस्पतालों में कैशलेस और पेपरलेस है। इसमें मुख्‍य रूप से दवा, अस्पताल में भर्ती और अस्पताल में भर्ती होने के खर्चों को कवर किया जाता है। PMJAY योजना में करीब 1400 पैकेज शामिल किए गए हैं, जिसमें घुटने के प्रत्‍यारोपण, कोरोनरी बाईपास, स्टेंटिंग जैसे खर्चीले इलाज शामिल हैं।

 

 

Check Also

वाहन, ड्रोन उद्योग के लिए प्रोत्साहन मंजूर

नई दिल्ली. केंद्रीय मंत्रिमंडल ने आज ड्रोन और वाहन उद्योग की घरेलू विनिर्माण क्षमता बढ़ाने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *