सोमवार , मार्च 01 2021 | 03:38:41 PM
Home / कृषि-जिंस / 31 जनवरी से पहले लोन जमाकर पाएं 90% तक की छूट
Get up to 90% discount by depositing loan before 31 January

31 जनवरी से पहले लोन जमाकर पाएं 90% तक की छूट

जयपुर। भारतीय स्टेट बैंक (State bank of India) (SBI) द्वारा ऋण समाधान योजना (Debt resolution plan) चलाई जा रही है. इस योजना के तहत ऋण बकायादारों (Loan defaulters of SBI) को एक बड़ी राहत दी गई है. दरअसल, 31 जनवरी 2021 से पहले ऋण जमा कराने वालों को 90 प्रतिशत तक की छूट दी जाएगी. यानी अब पुराने बकायादारों ने जो ऋण ले रखा है, उसका केवल 10 प्रतिशत राशि की अदायगी कर ऋण मुक्त हो जाएंगे.

 31 जनवरी 2021 तक Debt resolution plan का लाभ

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो 31 जनवरी 2021 तक एक मुश्त ऋण समाधान योजना  (Debt resolution plan) का लाभ उठा सकते हैं और कर्ज को चुकता कर सकते हैं. लोन श्रेणी एनपीए के अनुसार, बकायेदार सन्दिग्ध खाता 1, सन्दिग्ध खाता 2, संदिग्ध खाता 3 में 90 प्रतिशत तक माफी ले सकते हैं.

किस प्रकार के लोन पर मिलेगा योजना का लाभ

इस योजना के तहत आवास लोन (house loan) को छोड़कर कृषि, व्यवसाय आदि किसी भी तरह के एनपीए लोन पर छूट दी जाएगी. बता दें कि बैंक डिफॉल्टर आवेदन के साथ कुल बकाया के 10 प्रतिशत राशि जमा करके माफी योजना का लाभ ले सकते हैं. डिफाल्टरों को 31 जनवरी तक आवेदन देने पर बैंक द्वारा अतिरिक्त 5 से 15 प्रतिशत तक बतौर इंसेंटिव लाभ मिल सकता है. डिफॉल्टर बैंक से संपर्क करके अपने एनपीए खाता (NPA account) से सबंधित जानकारी ले प्राप्त कर सकते हैं. खास बात यह है कि कृषि लोन लेने वाले किसानों को इस योजना का अधिक लाभ मिल पाएगा.

ऋण समाधान योजना के लिए ये होंगे पात्र

भारतीय स्टेट बैंक (State bank of India) के सहायक प्रबंधक के अनुसार, ऐसा ऋण खाता जो 31 दिसंबर 2019 या उससे पूर्व एनपीए में वर्गीकृत हो चुका हो, प्रति ऋणी कुल बकाया 20 लाख रुपए तक हो, इस तरह के सभी खाते ऋण समाधान योजना में पात्र हैं.

SBI खाताधारकों के लिए खुशखबरी!

Check Also

Farmers' fruits and vegetables will not be bad, 5 metric tons of cold storage will be made on the fields

किसानों के फल-सब्जियां नहीं होंगे ख़राब, खेतों पर बनेंगे 5 मीट्रिक टन के कोल्ड स्टोरेज

जयपुर। किसानों की फसल का उचित भंडारण हो सकें इसके लिए मध्य प्रदेश सरकार (Government …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *