गुरुवार, जुलाई 25 2024 | 11:50:12 PM
Breaking News
Home / बाजार / विनी इमिग्रेशन एंड एजुकेशन सर्विसीस लिमिटेड की आईपीओ से रु. 9.13 करोड़ जुटाने की योजना; आईपीओ 20 जून को खुलेगा
winny Immigration and Education Services Limited's IPO raises Rs. Plan to raise Rs 9.13 crore; IPO will open on June 20

विनी इमिग्रेशन एंड एजुकेशन सर्विसीस लिमिटेड की आईपीओ से रु. 9.13 करोड़ जुटाने की योजना; आईपीओ 20 जून को खुलेगा

कंपनी रु. 10 अंकित मूल्य के 6.52 लाख इक्विटी शेयर रु. 140 प्रति शेयर पर जारी करेगी; शेयर एनएसई के एनएसई इमर्ज प्लेटफॉर्म पर लिस्ट होंगे, रु. 9.13 करोड़ का फ्रेश इश्यू 20 जून से 24 जून तक सब्स्क्रीप्शन के लिए खुला रहेगा।

मुंबई. वीज़ा कंसल्टेंसी और इमिग्रेशन सर्विसीस में लगी अहमदाबाद स्थित विनी इमिग्रेशन एंड एजुकेशन सर्विसीस लिमिटेड अपने एसएमई पब्लिक इश्यू से रु. 9.13 करोड़ तक जुटाने की योजना बना रही है। कंपनी को नेशनल स्टॉक एक्सचेंज के एनएसई इमर्ज प्लेटफॉर्म पर अपना पब्लिक इश्यू लॉन्च करने की मंजूरी मिल गई है। पब्लिक इश्यू 20 जून को सब्स्क्रीप्शन के लिए खुला है और 24 जून को बंद हो जाएगा। पब्लिक इश्यू से प्राप्त राशि का उपयोग नए कार्यालय खोलने, सॉफ्टवेयर डेवलपमेन्ट, ऋण का पुनर्भुगतान, ब्रांडिंग और विज्ञापन और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्यों सहित व्यवसाय विस्तार के लिए किया जाएगा। इंटरएक्टिव फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड इस इश्यू की लीड मेनेजर है।

रु. 9.13 करोड़ के आईपीओ में रु. 10 अंकित मूल्य के प्रति शेयर रु. 140 के 6.52 लाख इक्विटी शेयर का फ्रेश इश्यू शामिल है। रु. 9.13 करोड़ रुपये के फ्रेश इश्यू में से, कंपनी ने सॉफ्टवेयर डेवलपमेन्ट के लिए रु. 2.88 करोड़, पूरे भारत में कार्यालय खोलने के लिए रु. 97 लाख, ऋण चुकाने के लिए रु. 1.59 करोड़, ब्रांडिंग और विज्ञापन के लिए रु. 1 करोड़ और सामान्य कॉर्पोरेट उद्देश्य के लिए रु. 1.99 करोड़ का उपयोग करने की योजना बनाई है। एप्लिकेशन के लिए न्यूनतम लॉट साइज 1000 शेयर है जो प्रति एप्लिकेशन रु. 1.40 लाख के निवेश के बराबर है। आईपीओ के लिए रिटेल निवेशक कोटा शुद्ध ऑफर का 50% रखा गया है। प्री इश्यू में प्रमोटर की होल्डिंग 83.63% है जो इश्यू के बाद 58.51% होगी।

एआई-आधारित वेब पोर्टल और एक मोबाइल एप्लिकेशन के विकास पर सक्रिय

विनी इमिग्रेशन एंड एजुकेशन सर्विसीस लिमिटेड के निदेशक जिग्नेश पटेल ने कहा, “विनी इमिग्रेशन विश्व स्तर पर अग्रणी वीजा कन्सल्टिंग फर्म के रूप में खड़ा होने की इच्छा रखती है, जो अपनी विशेषज्ञता, नैतिकता और ग्राहक की सफलता के लिए दृढ़ प्रतिबद्धता के लिए प्रसिद्ध है। पहली योजना सेवाओं की पहुंच और दक्षता बढ़ाने के लिए एक इन-हाउस, पूर्ण डिजिटल परामर्श और सर्विस डिलिवरी मॉड्यूल विकसित करना है। इसके लिए, कंपनी ने हाल ही में अपने संचालन और सर्विस डिलिवरी विधियों में एआई-आधारित ओटोमेशन लागू किया है, जिससे सर्विस टाइमलाइन में उल्लेखनीय वृद्धि हुई है। इसके अलावा, हम एक ही मंच पर सभी समाधान प्रदान करने के लिए एआई-आधारित वेब पोर्टल और एक मोबाइल एप्लिकेशन के विकास पर सक्रिय रूप से काम कर रहे हैं। कंपनी मध्य पूर्व और अन्य दक्षिण एशियाई बाजारों में अपनी उपस्थिति बढ़ाने पर भी सक्रिय रूप से काम कर रही है।”

2008 में बनी विनी इमिग्रेशन एंड एजुकेशन सर्विसीस लिमिटेड मुख्य रूप से वीज़ा परामर्श व्यवसाय में शामिल है। कंपनी व्यक्तियों को स्टडी, ट्रावेल, वर्क, बिजनेस और माइग्रेशन उद्देश्यों के लिए सहायता करती है। कंपनी ने हजारों ग्राहकों को इमिग्रेशन और वीज़ा प्रक्रियाओं में सहायता प्रदान की है और वीज़ा परामर्श प्रदान किया है। कंपनी के गुजरात, महाराष्ट्र और दिल्ली में 12 कार्यालय हैं, जिनमें शाखाएं, फ्रेंचाइजी और कनाडा में एक वर्च्युअल ओफिस शामिल है।

विनी वीज़ा मार्गदर्शन, इमिग्रेशन सहायता और डोक्युमेन्टेशन सर्विसीस प्रदान करती है। कंपनी निम्नलिखित सेवाओं के लिए परामर्श प्रदान करती है:

1. भाषा प्रवीणता परीक्षाओं के लिए प्रशिक्षण,
2. विभिन्न प्रकार के टेम्पररी रेसिडेन्स वीज़ा पर कन्सल्टिंग और प्रोसेसिंग,
3. परमेनंट रेसिडन्सी वीजा पर कन्सल्टिंग और प्रोसेसिंग।

Check Also

एलआईसी एमएफ ने निखिल रूंगटा को सह-मुख्य निवेश अधिकारी – इक्विटी के रूप में नियुक्त किया

जयपूर। एलआईसी म्यूचुअल फंड (एलआईसी एमएफ) ने निखिल रूंगटा को सह-मुख्य निवेश अधिकारी – इक्विटी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *