मंगलवार , दिसम्बर 01 2020 | 04:28:33 PM
Home / कृषि-जिंस / शरद पवार ने प्याज की आयात-निर्यात की नीति को लेकर केंद्र की निंदा की
Sharad Pawar slams Center for import-export policy of onions

शरद पवार ने प्याज की आयात-निर्यात की नीति को लेकर केंद्र की निंदा की

जयपुर। पूर्व केंद्रीय कृषि मंत्री एवं राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Panwar) ने प्याज के आयात-निर्यात की नीति को लेकर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) नीत केंद्र सरकार निंदा की है और कहा है कि सरकार की विरोधाभासी नीति के कारण प्याज का स्वाद कड़वा हो गया है।

केंद्र सरकार प्याज को आवश्यक वस्तुओं की सूची से हटा चुकी

शरद पवार (Sharad Panwar) ने भुजबल नॉलेज सिटी में बुधवार को प्याज उत्पादकों तथा व्यापारियों से मुलाकात के दौरान यह बातें कही। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार के प्याज के निर्यात को रोकने तथा आयात की अनुमति देने वाले विरोधाभासी फैसले के कारण प्याज उत्पादक कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार प्याज को आवश्यक वस्तुओं की सूची से हटा चुकी है।

प्याज पर लगे प्रतिबंधों को जल्द हटाने की मांग

उन्होंने कहा कि केंद्र को प्याज के बारे में फिर से हस्तक्षेप करने की आवश्यकता नहीं थी। उन्होंने प्याज पर लगे प्रतिबंधों को जल्द से जल्द हटाने की मांग की। उन्होंने कहा कि प्याज का मुद्दा केंद्र और राज्य सरकार का नहीं है। उन्होंने कहा कि वह प्याज के मुद्दे को केंद्र के संबंधित विभाग के प्रमुखों के समक्ष उठायेंगे। उन्होंने व्यापारियों को प्याज बाजारों को फिर से शुरू करने की सलाह दी और कहा उनकी परेशानियों को दूर करने के प्रयास किये जा रहे हैं। राकांपा प्रमुख ने प्याज के परिवहन पर लगाए गए 25 टन के कैप पर भी नाराजगी व्यक्त की।

गेहूं के बीज पर मिलेगी 90 प्रतिशत तक की सब्सिडी, जानिए ज़रूरी दस्तावेज़ और आवेदन प्रक्रिया

Check Also

Rar on agricultural law, Punjab passed new bill

कृषि कानून पर रार, पंजाब ने पारित किए नए विधेयक

नई दिल्ली। हाल में अस्तित्व में आए कृषि कानूनों पर केंद्र और पंजाब सरकार (Punjab …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *