सोमवार , नवम्बर 29 2021 | 04:56:25 PM
Home / मनोरंजन / अजय ‘इनटू द वाइल्ड विद बेयर ग्रिल्स’ में अपने पिता के साथ अपने संबंधों के बारे में बात करेंगे

अजय ‘इनटू द वाइल्ड विद बेयर ग्रिल्स’ में अपने पिता के साथ अपने संबंधों के बारे में बात करेंगे

मुंबई. ‘इनटू द वाइल्ड विद बेयर ग्रिल्स’, डिस्कवरी+ का एक विशिष्ट शो है जो इस अक्टूबर में बहुप्रतीक्षित शो में से एक रहा है, आपको अपनी सीट से चिपके रहने पर मजबूर करने वाले शो के साथ हाजिर है! विश्व प्रसिद्ध एडवेंचरिस्ट बेयर ग्रिल्स भारत के सदाबहार एक्शन हीरो, अजय देवगन के साथ एक साहस से भरी यात्रा के लिए हाथ मिलाते हुए नज़र आएंगे। इस नाख़ून चबा जाने वाले अनुभव के लिए ट्यून-इन करें क्योंकि दोनों उच्च समुद्रों से हो कर गुजरेंगे और शार्क और अन्य खतरों के बीच हिंद महासागर में एक दूरस्थ द्वीप की खोज करेंगे! अजय देवगन ने एक एक्शन हीरो के रूप में अपनी यात्रा को याद किया है और बेयर ग्रिल्स के साथ बातचीत में और भी बहुत कुछ बताया है अजय ने कहा, “हां, मैंने बहुत सारे स्टंट किए हैं क्योंकि जब हमने फिल्मों में स्टंट करना शुरू किया था, तब कोई सुरक्षा उपकरण नहीं होता था। तो, हमें 30 या 40 फीट से कूदना पड़ता था। आपको बक्सों पर उतरना पड़ता था और अक्सर आप अपनी टखनों को या या शारीर के किसी और अंग को तोड़ लेते थे। जब आप जमीन पर गिरते थे तो कोई क्रैश मैट नहीं होता था। इसलिए, हम असली चीजें करते थे। ”

अजय अपने पिता के बारे में बोलते हुए कहते हैं, “अपने माता-पिता को खोना कठिन घड़ी होती है। क्योंकि अपने जीवन के पहले 20 वर्षों में, आप उनकी परवाह नहीं करते हैं। आपको लगता है कि वे मूर्ख हैं। वे कुछ नहीं जानते। आप सब कुछ जानते हैं। और जब आपके बच्चे होते हैं, तब आपको एहसास होने लगता है कि माता-पिता वास्तव में क्या हैं या उन्होंने क्या किया होगा। और कभी-कभी बहुत देर भी हो जाती है।” उन्होंने कहा, “वह अल्जाइमर से पीड़ित थे और स्टंट के कारण उन्हें काफी चोटें आई थीं। जब वह छोटे थे तब उन्हें एक बार कांच से गुजरना पड़ा था, और उनके सिर पर 45 टांके लगे थे क्योंकि उस समय कांच का टूटना असली कांच का टूटना होता था।

Check Also

गम में डूबी शहनाज बार बार ले रहीं है सिद्धार्थ का नाम

मुंबई. सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे एक दिल दहला देने वाले वीडियो में, सिद्धार्थ …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *