गुरुवार , फ़रवरी 29 2024 | 08:24:58 AM
Breaking News
Home / कृषि-जिंस / प्रदेश में पहली बार एक वित्तीय वर्ष में ब्याज मुक्त, सहकारी फसली ऋण का सर्वाधिक वितरण हुआ
For the first time in the state, maximum distribution of interest-free cooperative crop loan was done in a financial year.

प्रदेश में पहली बार एक वित्तीय वर्ष में ब्याज मुक्त, सहकारी फसली ऋण का सर्वाधिक वितरण हुआ

29.71 लाख किसानों को 19 हजार 740 करोड़ रूपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण हुआ वितरित

जयपुर। राज्य के इतिहास में पहली बार एक वित्तीय वर्ष में सर्वाधिक ब्याज मुक्त सहकारी फसली ऋण वितरण का रिकॉर्ड बना है। वित्तीय वर्ष 2022-23 में 29.71लाख किसानों को 19 हजार 740 करोड़ रूपये का ब्याज मुक्त सहकारी फसली ऋण (Interest Free Cooperative Crop Loan) वितरित किया गया। यह जानकारी मंगलवार को सहकारिता मंत्री उदयलाल आंजना (Cooperative Minister Udaylal Anjana) ने दी।

98 हजार 320 नए किसानों को 180 करोड़ रूपये का ऋण

आंजना ने बताया कि वित्तीय वर्ष 2022-23 में खरीफ सीजन में 98 हजार 320 नए किसानों को 180 करोड़ रूपये का तथा रबी सीजन में 2 लाख 19 हजार 249 नए किसानों को 367 करोड़ रूपये का सहकारी फसली ऋण वितरित किया गया। इस प्रकार कुल 3 लाख 17 हजार 569 नए सदस्य किसानों को 547 करोड़ रूपये का ब्याज मुक्त फसली ऋण वितरित किया गया।

अपेक्स बैंक को 115.69 करोड़ रूपये का सकल लाभ

सहकारिता मंत्री ने बताया कि वर्तमान सरकार के कार्यकाल में 2019-20 में 9541.02 करोड़ रूपये, वर्ष 2020-21 में 15235.38 करोड़ रूपये, वर्ष 2021-22 में 18101.68 करोड़ रूपये तथा वर्ष 2022-23 में 19740.87 करोड़ रूपये का ब्याज मुक्त सहकारी फसली ऋण का वितरण किया गया है। उन्होंने बताया कि वर्तमान सरकार के पूववर्ती कार्यकाल के दौरान वर्ष 2012-13 में किसानों के हित में ब्याज मुक्त सहकारी फसली ऋण प्रारंभ किया गया था। आंजना ने बताया कि अपेक्स एवं केन्द्रीय सहकारी बैंक लगातार किसानों के हित में कार्य कर रहे है। अपेक्स बैंक ने बखूबी कार्य करते हुए 115.69 करोड़ रूपये का सकल लाभ अर्जित किया है। जिसमें से 73.07 करोड़ रूपये का शुद्ध लाभ रहा है। सकल लाभ पिछले वित्तीय वर्ष की तुलना में 3.52 करोड़ रूपये अधिक है।

Check Also

Mustard procurement on MSP increased by 10 days, now till July 24

सरसों की एमएसपी पर खरीद 10 दिवस बढ़ी, अब 24 जुलाई तक होगी खरीद

2.44 लाख किसानों से 6.27 लाख मीट्रिक टन सरसों एवं चना की हुई खरीद, 1.73 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *