मंगलवार , जनवरी 19 2021 | 02:05:12 AM
Breaking News
Home / स्वास्थ्य-शिक्षा / पूर्व आईआईटी छात्रों का सशक्तीकरण कोष
Former IIT Students Empowerment Fund

पूर्व आईआईटी छात्रों का सशक्तीकरण कोष

जयपुर। सामाजिक पहल एवं संबंधित परियोजनाओं के लिए 21,000 करोड़ रुपये के कोष के बाद, भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (Indian Institute of Technology) (आईआईटी) (IIT) अल्मनाई काउंसिल (IIT Almnai Council) ने अब अगले 10 वर्षों में 50,000 करोड़ रुपये जुटाने के उद्देश्य से एक ‘भारत सशक्तीकरण कोष’ की घोषणा की है। पैनआईआईटी यूएसए द्वारा आयोजित कराई गई आईआईटी2020 (IIT 2020) ‘फ्यूचर इज नाउ’ वर्चुअल समिट (Future Is Now Virtual Summit 2020) की पूर्व संध्या पर इस अभियान को शुरू किया गया है, जिसके तहत प्रत्येक पूर्व छात्र से संस्थान में पढ़ते समय प्राप्त की गई सब्सिडी के बराबर राशि का योगदान देने के लिए आह्वान किया गया है।

शिक्षा सब्सिडी के कारण राशि बकाया

आईआईटी अल्मनाई काउंसिल (IIT Almnai Council) के अध्यक्ष एवं मुख्य स्वयंसेवक रवि शर्मा कहते हैं, ‘भारत या विदेश में रह रहे आईआईटी के प्रत्येक पूर्व छात्र को यहां मिलने वाली शिक्षा सब्सिडी के कारण भारत सरकार एक बड़ी राशि बकाया है। आईआईटी पूर्व-छात्र परिषद (IIT Alumni Council) प्रत्येक पूर्व छात्र को नकद या प्रौद्योगिकी के तौर पर योगदान करने के लिए प्रेरित करेगा जो पढ़ाई के दौरान उनके लिए दी गई सब्सिडी राशि के बराबर होगा। इसे भारत सशक्तीकरण कोष में जमा कराया जाएगा। विशिष्ट संरचित निधि का उपयोग प्रतिभा एवं बुनियादी ढांचे के साथ-साथ प्रमुख प्रौद्योगिकियों के आयात के लिए घरेलू अनुसंधान को पुनर्जीवित करने के लिए किया जाएगा।’

50,000 करोड़ रुपये का कोष बनाना संभव

शर्मा के अनुसार, 5,00,000 से अधिक आईआईटी (IIT) के पूर्व छात्रों में से अगर फिलहाल 10-15 प्रतिशत से प्रतिक्रिया हासिल होती है तो 10 साल की अवधि में भारत सशक्तिकरण कोष के तहत 50,000 करोड़ रुपये का कोष बनाया जा सकता है। वह बताते हैं, ‘भारत को दुनिया की अग्रणी प्रौद्योगिकी सुपर पावर बनने के लिए अनुसंधान संबंधी बुनियादी ढांचे और प्रौद्योगिकी दोनों की महत्वपूर्ण भूमिका हैं। आईआईटी अल्मनाई काउंसिल (IIT Almnai Council) का मानना है कि केवल तकनीक की मदद से भारत विश्व की उभरती व्यवस्था में अग्रणी बन सकता है। इस बदलाव में भारत सशक्तीकरण कोष की अहम भूमिका हो सकती है।’

 अमेरिका में आईआईटी के 50,000 पूर्व छात्र

आईआईटी2020 वर्चुअल समिट (IIT2020 Virtual Summit) के अध्यक्ष, पैनआईआईटी यूएसए के बोर्ड सदस्य और आईआईटी अल्मनाई काउंसिल सिटी चैप्टर के अध्यक्ष संजीव गोयल ने बताया कि अमेरिका में आईआईटी के 50,000 पूर्व छात्र हैं। गोयल ने कहा, ‘आईआईटी अल्मनाई काउंसिल में 35,000 से अधिक व्यक्तिगत सदस्य और 350 से अधिक वेंचर फंड्स शामिल हैं।  हम सामूहिक रूप से काम करते हुए एक बेहतर कल का निर्माण कर सकते हैं।’

सैमसंग ने आईआईटी जोधपुर के साथ साझेदारी की

Check Also

Homegrown Indira IVF has 93 centers in the country

होमग्रोन इन्दिरा आईवीएफ  के देश में 93 केंद्र

नई दिल्ली। इन्दिरा आईवीएफ (Indira IVF) देशभर में 93 केंद्रों के साथ भारत की सबसे …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *