रविवार , फ़रवरी 28 2021 | 03:06:59 AM
Home / कृषि-जिंस / कृषि क्षेत्र में भी अन्य क्षेत्रों की तरह निवेश और नवाचार में सुधार होना चाहिए: पीएम मोदी
Investment and innovation should improve in agriculture sector like other sectors too: PM Modi

कृषि क्षेत्र में भी अन्य क्षेत्रों की तरह निवेश और नवाचार में सुधार होना चाहिए: पीएम मोदी

जयपुर। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से पीएम किसान सम्मान निधि (PM Kisan Samman Nidhi) के तहत वित्तीय लाभ की अगली किस्त जारी कर दी है. इस अवसर पर बोलते हुए, प्रधानमंत्री (Prime Minister Narendra Modi) ने लेनदेन के बारे में रुपए पर प्रकाश डाला. एक बटन के क्लिक पर देश के 9 करोड़ से अधिक किसानों के परिवारों के बैंक खातों में सीधे 18,000 करोड़ रुपए आ गए हैं. जब से यह योजना शुरू हुई, तब से आज तक किसानों को 1 लाख 10 हजार करोड़ रुपए उनके खाते में पहुंच चुके हैं.

करोड़ों किसानों को  PM Crop insurance Scheme का लाभ

प्रधानमंत्री (Pm Narendra Modi) ने कहा कि सरकार ने किसानों की इनपुट लागत (Input cost) को कम करने के उद्देश्य से काम किया है. उन्होंने सरकार की कुछ किसान-केंद्रित पहलों जैसे मृदा स्वास्थ्य कार्ड (Soil health card), यूरिया की नीम कोटिंग (Neem coted Urea), सौर पंपों (Solar pump) के वितरण के लिए योजनाएं सूचीबद्ध कीं जिससे किसानों के लिए इनपुट लागत को कम करने में मदद मिली. उन्होंने कहा कि सरकार ने यह सुनिश्चित करने की कोशिश की है कि किसानों को बेहतर फसल बीमा (Crop insurance) कवर मिले. आज करोड़ों किसानों को पीएम फसल बीमा योजना (PM Crop insurance Scheme) का लाभ मिल रहा है.

एमएसपी के रूप में उत्पादन लागत का डेढ़ गुना दाम तय

प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार ने यह सुनिश्चित करने की कोशिश की कि देश के किसानों को फसल का उचित मूल्य मिले. उन्होंने कहा कि सरकार ने किसानों के लिए एमएसपी (MSP) के रूप में उत्पादन लागत का डेढ़ गुना दाम तय किया है. उन्होंने उन फसलों की संख्या को जोड़ा जिनके लिए एमएसपी (MSP) उपलब्ध है उन्हें भी बढ़ाया गया था.

किसानों के लिए बने रिस्क मैनेजमेंट अथॉरिटी : अशोक दलवई

Check Also

Farmers' fruits and vegetables will not be bad, 5 metric tons of cold storage will be made on the fields

किसानों के फल-सब्जियां नहीं होंगे ख़राब, खेतों पर बनेंगे 5 मीट्रिक टन के कोल्ड स्टोरेज

जयपुर। किसानों की फसल का उचित भंडारण हो सकें इसके लिए मध्य प्रदेश सरकार (Government …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *